Hindi News Portal
राज्य

उम्रकैद की सजा सुनाकर माफिया डान डिप्रेशन में पहुचा

बांदा 07 जून ; जिला कारागार में बंद माफिया मुख्तार अंसारी को हाल ही में उम्रकैद की सजा होने के बाद से उसने चुप्पी साध रखी है। खाना पानी या कोई बात पूछने पर वह सिर्फ इशारों में ही सिर हिलाकर हां या न में जवाब दे रहा है। इस सबके बीच कारागार में निरुद्ध माफिया डान के स्वास्थ्य का रुटीन चेकअप किया जा रहा है। हालांकि ब्लड प्रेशर सामान्य है, लेकिन खाने में सिर्फ दो रोटी ही खा रहा है। उधर, मुख्तार की चुप्पी से अफसर खासे परेशान है।
तीन दिनों पहले अवधेश राय हत्याकांड मामले में अदालत ने माफिया मुख्तार अंसारी को उम्रकैद की सजा सुनाई है। चार दशक की माफियागिरी में यह पहला मौका था, जब उसे हत्या के किसी केस में दोषी करार दिया गया। सजा होने के बाद यहां जिला कारागार में बंद माफिया ने चुप्पी साध ली। वह किसी से नहीं बोल रहा है। ज्यादा कुछ कहने उसका जवाब इशारों में देता है। सजा होने के बाद जेल में मुख्तार अंसारी काफी बेचैन है। जेल सूत्रों के अनुसार मुख्तार का ब्लड प्रेशर लगातार चेक किया जा रहा है। खाने में मुख्तार सिर्फ हल्का दो रोटी के साथ दाल और सब्जी ले रहा है।
जेल अधिकारियों का कहना है कि मुख्तार किसी से बातचीत नहीं कर रहा है। कुछ कहने पर उसका जवाब इशारों में देता है। कारागार अधीक्षक वीरेश राज का कहना है मुख्तार की तबीयत सामान्य है। खाना भी खाया है। सजा होने के बाद चितिंत होना स्वाभाविक है। एक दो दिन में सबकुछ ठीक हो जाएगा।
जिला अस्पताल के मनोरोग चिकित्सक डा.हर दयाल का कहना है कि किसी विशेष बात या घटना को लेकर कोई चुप्पी साध लेता है तो इसका सीधा असर उसके मस्तिष्क पर पड़ता है। इससे वह डिप्रेशन में भी जा सकता है। वरिष्ठ अधिवक्ता अशोक दीक्षित का कहना है कि मुख्तार को उम्रकैद की उम्मीद नहीं थी। इतनी बड़ी सजा के बाद डिप्रेशन का खतरा बढ़ जाता है। हालांकि कानून में हत्या की पुष्टि होने पर उम्रकैद की सजा होती है।
जिला कारागार में निरुद्ध माफिया डान मुख्तार अंसारी ने एक मामले में वीडियो कान्फ्रेसिंग के जरिए हुए पेशी में गुहार लगाते हुए वकील के माध्यम से खाने-पीने के साथ बिस्कुट और कुरकुरे भिजवाने का अनुरोध किया था। अदालत में गुहार लगाई थी कि वह जिला जेल में बंद हैं। वकील के जरिए खाने-पीने, फल, बिस्कुट और कुरकुरे जरूर भिजवाने का आदेश कर दीजिए। हालांकि यह पहला मामला नहीं है जब मुख्तार ने कोर्ट में जज के सामने ऐसी मांग रखी है। इससे पहले उसने लखनऊ के केले और लजीज आम की डिमांड रखी थी। तब कोर्ट ने उसकी मांग को स्वीकार करते हुए आम और केला उपलब्ध कराने का आदेश दिया था। जेल अधीक्षक वीरेश राज का कहना है कि न्यायालय आदेश देगी तो मुख्तार को जेल मैन्युअल के मुताबिक खाने-पीने का सामान मुहैया कराया जाएगा।

 

07 June, 2023

येदियुरप्पा, मुश्किल मेंबड़ी कोर्ट ने पॉक्सो मामले में गैर जमानती वारंट जारी किया
धारा 354 ए (यौन उत्पीडऩ) के तहत मुकदमा दर्ज किया
जमीन घोटाले में झामुमो नेता अंतु तिर्की सहित 10 आरोपियों की मुश्किल बढ़ी
ईडी ने पिछले महीने गिरफ्तार किया था।
इंस्टाग्राम रील बनाने के चक्कर मै हाथी ने युवक को दौड़ाया, कुचलकर मारा डाला
हाथी 3 हफ्ते से कालागढ़ की हाईडिल कॉलोनी में उत्पात मचा रहा था।
आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू नायडू ने चौथा बार मुख्यमंत्री पद की और पवन कल्याण ने डिप्टी सीएम शपथ ली
पीएम मोदी ने चंद्रबाबू नायडू को शुभकामनाएं दी
सुप्रीम कोर्ट की दिल्ली में टैंकर माफिया और पानी की बर्बादी को लेकर दिल्ली् सरकार को कड़ी फटकार
लोगों को पानी की कमी का सामना करना पड़ रहा है।