Hindi News Portal
अपराध

पाली में रेल्वे सुरक्षा बल (आर.पी.एफ.) के इंस्पेक्टर, सब इंस्पेक्टर एवं एएसआई रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार

पाली/फालना 27जून ; भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) मुख्यालय के निर्देश पर पाली-द्वितीयइकाई रिश्वत लेने के मामले में बड़ी कार्रवाई की है। इस मामले में रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ), पोस्ट फालना के इंस्पेक्टर कृपाल सिंह, सब इंस्पेक्टर सुश्री डिम्पल व असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर (एएसआई) रमेश कुमार को 65 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। एसीबी के महानिदेशक डॉ. रवि प्रकाश मेहरड़ा ने बताया कि एसीबी की पाली-द्वितीय इकाई काे परिवादी द्वारा शिकायत दी गई थी। इसमें बताया कि आरपीएफ थाना फालना में दर्ज ऑनलाईन टिकिट मामले में उसकी दुकान से लाए गए लैपटॉप एवं अन्य दस्तावेज वापस करने एवं जाँच में मदद करने की एवज में आरोपियों द्वारा 2 लाख रुपए रिश्वत की राशि मांग कर परेशान किया जा रहा है।
इस पर एसीबी जोधपुर के उप महानिरीक्षक पुलिस हरेन्द्र महावर के सुपरविजन मेंएसीबी पाली-द्वितीय इकाई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्ष खींव सिंह के नेतृत्व में शिकायत का सत्यापन किया जाकर आज उनके द्वारा मय टीम के ट्रेप कार्रवाई करते हुए आरोपियों को रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया। उल्लेखनीय है कि शिकायत के सत्यापन के दौरान भी आरोपी रमेश कुमार द्वारा परिवादी से 35 हजार रुपये रिश्वत के रूप में वसूले थे।
एसीबी जयपुर की उप महानिदेशक पुलिस श्रीमती स्मिता श्रीवास्तव के निर्देशन में आराेपियों से पूछताछ जारी है। एसीबी द्वारा मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जायेगा।

 

 

27 June, 2024

साइबर शातिरों ने नए तरीके से ठगी बिना OTP या फोन कॉल के खाते से उड़ा लिए पैसे पुलिस भी हैरान
पुलिस ने गिरोह के 8 सदस्यों को गिरफ्तार किया है।
8 साल की बच्ची के साथ 12-13 साल के क्लासमेट्स ने गैंगरेप कर हत्या की, इस तरह हुआ खुलासा
घटना रविवार को मुच्चुमरी गांव में हुई और बुधवार को इसका खुलासा हुआ
BMW हिट-एंड-रन के 72 घंटे पकड़ा गया शिवसेना नेता का बेटा, पीछे लगी थीं 14 टीमें
पुलिस ने मिहिर शाह को गिरफ्तार करने के लिए 14 टीमें बनाई थीं।
हाथरस कांड के बाबा को बचाने के लिए वकील ने ‘नई कहानी’, गढ़ी इस चीज को बताया भगदड़ का कारण
भीड मै जहरीले स्प्रे का इस्तेमाल हुआ है
फरार इनामी सब इंस्पेक्टर गिरफ्तार
7 लोगों को आरोपी बनाया था।