Hindi News Portal
देश

गिरीश चंद्र मुर्मू देश के नए कैग होगे वे राजस्थान कैडर के आईएएस अधिकारी राजीव महर्षि की जगह लेगे

नई दिल्ली. वरिष्ठ IAS अधिकारी गिरीश चंद्र मुर्मू को भारत का नया सीएजी नियुक्त किया गया है। वे राजीव महर्षि की जगह लेंगे। राजीव महर्षि 1978 बैच के राजस्थान कैडर के आईएएस अधिकारी हैं।
गिरीश चंद्र मुर्मू ने कल ही केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के एलजी पद से इस्तीफा दिया था। मुर्मू की जगह पूर्व केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा को जम्मू-कश्मीर का नया उपराज्यपाल नियुक्त किया गया है।
गुजरात कैडर के IAS अधिकारी गिरीश चंद्र मुर्मू को पिछले साल अक्टूबर 19 में जम्मू-कश्मीर का उपराज्यपाल बनाया गया था। वे गुजरात में जब नरेन्द्र मोदी मुख्य मंत्री थे तब वे उनके प्रधान सचिव रह चुके हैं।

केंद्र सरकार ने गुरुवार को गिरीश चंद्र मुर्मू को भारत का नया नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) नियुक्त किया. आर्थिक मामलों के विभाग द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार, ‘‘...राष्ट्रपति को श्री गिरीश चंद्र मुर्मू को भारत का नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक नियुक्त करते हुए बहुत प्रसन्नता हो रही है, उनकी नियुक्ति पदभार संभालने के तिथि से प्रभावी होगी.’’

 

07 August, 2020
Share |

मोदी जी ने किसानों को आजादी दिलाने का काम किया, विपक्ष का व्यवहार गैर-जिम्मेदाराना: नड्डा
बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि किसानों के साथ 70 साल से अन्याय हो रहा था आज मोदी सरकार ने उसको आजादी दिलाने का काम किया है।
दो कृषि विधेयक पारित होने को ऐतिहासिक बताया कहा- हम यहां अपने किसानों की सेवा के लिए हैं : प्रधानमंत्री मोदी ने
प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं पहले भी कह चुका हूं और एक बार फिर कहता हूं कि किसानों को मिनिमम सपोर्ट प्राइस की व्यवस्था जारी रहेगी और सरकार की अनाज की खरीद जारी रहेगी।
कश्मीर में अजहर के गुरिल्ला समूह जेईएम के हाथों लगी NATO आर्मी की M4 राइफल
अफगानिस्तान-पाकिस्तान क्षेत्र में आतंकवाद से लड़ने के लिए NATO सेना द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली कई अमेरिका निर्मित एम 4 स्नाइपर राइफलें
संसद का मॉनसून सत्र शुरू, PM मोदी बोले- कोरोना के साथ कर्तव्य भी जरूरी
कोरोना वायरस महामारी की छाया के बीच संसद आज से 18 दिन के मॉनसून सत्र के लिए पूरी तरह तैयार है। इस सत्र में कई चीजें पहली बार हो रही हैं जिनमें दोनों सदनों की बैठक सुबह-शाम की पालियों में होना और सत्र में एक भी अवकाश नहीं होना शामिल हैं।
सरहद पर अब तनाव कम करने के लिए चीन तैयार, विदेश मंत्रियों की बैठक में इन पांच बिंदुओं पर बनी सहमति
एलओसी पर तनाव कम करने के लिये चीन विदेश मंत्रीयो की बैठक की राजी