Hindi News Portal
देश

Mobile App से हाजिरी और कम से कम कागज का इस्तेमाल, कुछ इस तरह से होगा मानसून सत्र में कामकाज

नई दिल्ली. कोरोना महमारी के बीच 14 सितंबर से संसद का मानसून सत्र शुरू होने जा रहा है। विशेष परिस्तिथियों में होने जा रहे इस मानसून सत्र को लेकर कई विशेष तरह की तैयारियों भी की जा रही हैं। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि मॉनसून सत्र महामारी के चलते चुनौतीपूर्ण और कठिन हो गया है लेकिन संवैधानिक दायित्वों को पूरा करना है।

उन्होंने कहा कि ये समय देश हीं नहीं, विश्व के लिए चुनौतीपूर्ण है। संसद का ये सत्र ऐतिहासिक इसलिए होगा क्योंकि संसद के अंदर इस महामारी के समय व्यापक सुरक्षा इंतजामों के तहत कोविड के सभी दिशा निर्देशों का पालन करना होगा। सही तरह से सत्र चले, विधायी कार्य सफलतापूर्वक हो।
लोकसभा स्पीकर ने बताया कि स्वास्थ्य संबंधी गाइडलाइंस और पालन के लिए सभी विशेषज्ञों, राजनीतिक दलों और अधिकारियों से चर्चा हुई है। 14 सितंबर को लोकसभा 9 am से 1 बजे और अगले दिन से 3 pm से 7 pm तक चलेगी। शून्यकाल आधे घंटे के लिए होगा।

उन्होंने बताया कि लोकसभा चेंबर में 257, दर्शक दीर्घा में 172, राज्यसभा में चेंबर में 60 और दीर्घा में 51 सदस्य बैठ सकते हैं। ओम बिरला ने सभी सांसदों से जांच कराने का आग्रह किया। सभी कर्मचारियों, अधिकारियों की जांच भी जांच के निर्देश दिए गए हैं।

ओम बिरला ने बताया कि संसद के मानसून सत्र में कम से कम कागज का उपयोग होगा, डिजिटल तरीके का इस्तेमाल होगा। पिछली बार 62% डिजिटलीकरण हुआ, इस बार सौ फीसदी की कोशिश होगी। मोबाइल एप के मार्फत सांसद अपनी उपस्थिति दर्ज करा सकेंगे। ये एप तभी प्रभावी होगा जब सदस्य संसद परिसर में हों, वो इसका इस्तेमाल घर बैठे नहीं करा सकेंगे।

 

सौजन्य : इंडिया टीवी

11 September, 2020
Share |

कश्मीर में अजहर के गुरिल्ला समूह जेईएम के हाथों लगी NATO आर्मी की M4 राइफल
अफगानिस्तान-पाकिस्तान क्षेत्र में आतंकवाद से लड़ने के लिए NATO सेना द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली कई अमेरिका निर्मित एम 4 स्नाइपर राइफलें
संसद का मॉनसून सत्र शुरू, PM मोदी बोले- कोरोना के साथ कर्तव्य भी जरूरी
कोरोना वायरस महामारी की छाया के बीच संसद आज से 18 दिन के मॉनसून सत्र के लिए पूरी तरह तैयार है। इस सत्र में कई चीजें पहली बार हो रही हैं जिनमें दोनों सदनों की बैठक सुबह-शाम की पालियों में होना और सत्र में एक भी अवकाश नहीं होना शामिल हैं।
सरहद पर अब तनाव कम करने के लिए चीन तैयार, विदेश मंत्रियों की बैठक में इन पांच बिंदुओं पर बनी सहमति
एलओसी पर तनाव कम करने के लिये चीन विदेश मंत्रीयो की बैठक की राजी
Mobile App से हाजिरी और कम से कम कागज का इस्तेमाल, कुछ इस तरह से होगा मानसून सत्र में कामकाज
लोकसभा स्पीकर ने बताया कि स्वास्थ्य संबंधी गाइडलाइंस और पालन के लिए सभी विशेषज्ञों, राजनीतिक दलों और अधिकारियों से चर्चा हुई है। 14 सितंबर को लोकसभा 9 am से 1 बजे और अगले दिन से 3 pm से 7 pm तक चलेगी। शून्यकाल आधे घंटे के लिए होगा।
भारत ने चीन को एक और बड़ा झटका PUBG समेत 118 चीनी मोबाइल ऐप्स बैन,
भारत सरकार के अनुसार ये तमाम एप्स देश की सुरक्षा और संप्रभुता के लिए खतरा बन चुके थे