Hindi News Portal
भोपाल

विश्व का सर्वश्रेष्ठ और सबसे अच्छा है भारतीय लोकतंत्र - मंत्री डॉ. मिश्रा

भोपाल : हमारे देश का लोकतंत्र विश्व का सर्वश्रेष्ठ और सबसे अच्छा लोकतंत्र है। गृह एवं विधि-विधायी मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने पं. कुंजीलाल दुबे राष्ट्रीय संसदीय विद्यापीठ में आयोजित वाद-विवाद प्रतियोगिता का शुभारंभ करते हुए यह बात कही। उन्होंने प्रतिभागियों को प्रतियोगिता के लिये शुभकामनाएँ दी। कार्यक्रम में विधायक शैलेन्द्र जैन, प्रमुख सचिव मध्यप्रदेश विधानसभा ए.पी. सिंह भी मौजूद रहे।

मंत्री डॉ. मिश्रा ने कहा कि लोकतंत्र को और अधिक सशक्त बनाने के लिये विद्यार्थियों के मन को अभी से लोकतंत्र के सही रंगों से भरना जरूरी है। उन्होंने बताया कि लोकतंत्र की अलग-अलग परिवेश और परिस्थिति में अलग-अलग तरह से अनुभूति होती है। इसीलिये लोकतंत्र को अनुभव का हाथी कहा जाता है। उन्होंने लोकतंत्र के वास्तविक रूप को समझने और समझाने की आवश्यकता जताई है।

संचालक संसदीय विद्यापीठ डॉ. प्रतिमा यादव ने विद्यापीठ की गतिविधियों से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि कोरोना संकट काल के 2 साल बाद अब ऑफलाइन वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। "क्या उभर रहे जन-आंदोलनों से लोकतंत्र सशक्त होगा'' विषय पर वाद-विवाद प्रतियोगिता में अनेक प्रतिभागी शामिल हुए।

उप संचालक श्री राजेश अग्रवाल ने बताया कि प्रतियोगिता में 19 विद्यालयों के 38 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। ग्यारहवीं कक्षा के अनुज चिढ़ार ने प्रथम, नवीं कक्षा की कु. आरुषि विजयवर्गीय और कु. परिधि दांगी ने द्वितीय, नवीं कक्षा की ही कु. रिधि चंचलानी ने तृतीय और नवीं के शौर्य झंवर और ग्यारहवीं की कु. शिखा कुशवाह ने सांत्वना पुरस्कार प्राप्त किया।

25 November, 2021

तीसरी लहर नहीं आये इसके लिए सबको वैक्सीन का दूसरा डोज लगाना सबसे बड़ा काम और पहली प्राथमिकता -
कोरोना के नए वेरिएंट के बारे में सावधानी जरूरी है। वैक्सीन के सेकंड डोज लगाने से बड़ा कोई काम नहीं है मुख्यमंत्री ने क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियों के सदस्यों को संबोधित करते हुए कहा
मुख्यमंत्री चौहान ने मास्क लगवाने का जन-जागरूकता अभियान सीहोर जिले के सलकनपुर से प्रारंभ किया
मुख्यमंत्री ने फेस मास्क वितरित किए और अपने हाथों से उन लोगों को लगाए, जो इसका उपयोग नहीं कर रहे थे
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की जनता से अपील कोरोना की तीसरी लहर नहीं आने देने में सहयोग करें –
जिस संकट से हम सेकेण्ड दौर में गुजरे हैं, उसकी तकलीफें हम भूले नहीं हैं। हमको सावधान रहना ही होगा। हमको कोरोना नियंत्रित करने के सारे उपायों को अपनाना होगा।
प्रदेश में 6 नवीन मेडिकल कालेज को केबिनेट की मंजुरी
राज्य शैक्षिक प्रबंधन एवं प्रशिक्षण संस्थान (सीमेट) को वर्तमान में प्रशासन अकादमी से अलग कर स्वतंत्र इकाई के रूप में स्थापित किया जाएगा
कलेक्टर-एसपी के काम पर निर्भर है जनता को सुशासन देना , अच्छे कार्य का बेहतर असर होता है : सीएम
मुख्यमंत्री चौहान ने कमिश्नर-कलेक्टर्स एवं पुलिस अधीक्षकों की वीडियो कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया