Hindi News Portal
राजनीति

ओपी राजभर को राष्ट्रपति चुनाव में BJP का सपोर्ट करने पर Y कैटेगरी की सुरक्षा का तोहफा मिली |

लखनऊ 22 जुलाई : सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर को योगी सरकार ने Y श्रेणी की सुरक्षा दी है। राष्ट्रपति चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को वोट देने के तोहफे के तौर पर देखा जा रहा है। इसको लेकर राजनीतिक गलियारे में अटकलों का बाजार गर्म हो चुका है। आमजनों में भी चर्चा है कि सरकार द्वारा राजभर का ख्याल करना कहीं न कहीं आने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर नया संकेत है।

सुभासपा ने विधानसभा चुनाव में सपा से गठबंधन किया था। इस दौरान सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने प्रदेश एवं केंद्र सरकार के खिलाफ जहां जमकर हमला बोला था। वहीं चुनाव में जहूूराबाद सीट से भारी अंतरों से जीत दर्जकर विरोधियों को पटखनी दी थी और राजभर समाज के सफल नेतृत्वकर्ता के रूप में खुद को साबित किया था।

आजमगढ़ और रामपुर लोकसभा उपचुनाव में सपा को मिली करारी हार के बाद से ही वह सपा के खिलाफ मुखर हैं। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को नसीहत देने के साथ ही राष्ट्रपति चुनाव में भी विपक्ष के प्रत्याशी को समर्थन न देकर एनडीए प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू के पक्ष में खड़े रहे। इधर शासन के निर्देश पर गाजीपुर पुलिस ने उन्हें वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की है।

ऐसे में आम जनों में चर्चा है कि सुरक्षा देने का मतलब धीरे-धीरे भाजपा से उनकी नजदीकी बढ़ती जा रही है, जो आने वाले लोकसभा में एक नया गुल खिलाने की ओर से इशारा कर रहा है। इस बारे में पुलिस अधीक्षक रोहन पी बोत्रे ने बताया कि शासन के निर्देश पर तीन दिन पूर्व जहूराबाद विधायक ओमप्रकाश राजभर को वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है।

22 July, 2022

दीनदयाल जी के मार्ग पर चलकर संगठन को बूथ स्तर तक मजबूत बनायें कार्यकर्ता : विष्णुदत्त शर्मा
प्रदेश अध्यक्ष सौंसर मे बूथ 163 पर पं. दीनदयाल जी की जयंती कार्यक्रम में हुए शामिल, कार्यकर्ताओं के साथ सुना मन की बात कार्यक्रम
जनता का मिल रहा अपार समर्थन, भाजपा को मिलेगी ऐतिहासिक जीतः विष्णुदत्त शर्मा
नगर विकास के संकल्प पत्र को पूरा करना हमारी प्रतिबद्वता
पेरम्बरा से राहुल की भारत जोड़ो यात्रा शुरू
यात्रा का 17वां दिन सुबह 10 बजे अंबल्लूर जंक्शन पर रुकेगा।
अशोक गहलोत ने किया ऐलान, निश्चित रूप से लड़ूंगा कांग्रेस के अध्यक्ष पद का चुनाव
अशोक गहलोत ने आगे कहा कि तारीख तो मैं अभी जाकर पक्की करूंगा। गहलोत ने कहा कि ये तय है कि मैं चुनाव लड़ूंगा (कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए)। जो हालात देश के हैं उसके लिए प्रतिपक्ष का मज़बूत होना बहुत जरूरी है और उसके लिए हम कोई कसर नहीं छोड़ें
सोनिया गांधी और माकन राजस्थान के सीएम पर फैसला करेंगे- गहलोत
उन्होंने साफ कर दिया है कि गांधी परिवार का कोई भी व्यक्ति अध्यक्ष नहीं बनेगा।