Hindi News Portal
धर्म

दो बार “राम राम" बोलने के पीछे बड़ा गूढ़ रहस्य है

“राम राम" कहना अपने एक सुकून देने वाला शब्द है जो कभी बोला जा सकता है दिन हो रात सुबह हो या शाम को बोला जा सकता  है  परन्तु कभी यह सोचा है की यह सिर्फ दो बार ही बोला जाता है क्या कारण है जो सिर्फ दो ही बार बोला जाता है हो सकता है अधिकतर लोगो को मालूम हो परन्तु आज के आधुनिक परिवेश मै पलने वाले बच्चो को शायद ही मालूम होगा की इसकी क्या वजह है की राम राम दो बार ही बोला जाता है आर्मी का जवान हो या पुलिस का जवान हो या आम आदमी हो या महिला हो सभी लोग बोलते जो सनातन धर्म मै विश्वास रखते है वो सभी लोग बोलते है और सामने वाले लो सम्मान देते है आइये जानते इसका रहस्य की "राम राम " शब्द दो बार क्या महत्व जानते कि यह आदि काल से ही चला आ रहा है और.....
हिन्दी की शब्दावली में ‘र' सत्ताइस्व्वां शब्द है,
‘आ’ की मात्रा दूसरा और ‘म' पच्चीसवां शब्द है...
अब तीनो अंको का योग करें तो 27 + 2 + 25 = 54,
अर्थात एक “राम” का योग 54 हुआ.
इसी प्रकार दो “राम राम” का कुल योग 108 होगा।
हम जब कोई जाप करते हैं तो 108 मनके की माला गिनकर करते हैं।
सिर्फ 'राम राम' कह देने से ही पूरी माला का जाप हो जाता है।
इसलिए हमेशा इस का प्रयोग दो बार ही किया जाता है अगर आपकी इच्छा हो तो कई बार भी बोल सकते है है तो राम का नाम है
👏🏻 राम राम ...जी 👏🏻

20 October, 2016

आज आपका दिन कैसा रहेगा राशिफल और आपके लिए लकी नंबर और लकी रंग कौन सा होगा ,जाने
आज ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष की उदया तिथि चतुर्थी और सोमवार का दिन है।
14 दिनों में चारधाम यात्रियों ने नया रिकॉर्ड बनाया , 10 लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने दर्शन किए
मुख्यमंत्री धामी के आदेश पर 31 मई तक ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन को बंद कर दिया गया है।
हेमकुंड साहिब के कपाट खुलने की तारीख घोषित गुरुद्वारा ट्रस्ट ने शुरू तैयारियां की
हर दिन 3,500 श्रद्धालु ही दर्शन कर सकेंगे
चार धाम यात्रा को लेकर नई गाइडलाइंस जारी, सरकार ने इन चीजों पर लगाया बैन
रील बनाने पर भी लगा बैन
चार धाम यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन बंद, यात्रा पर जाने से पहले जरूर
रजिस्ट्रेशन हरिद्वार और ऋषिकेश में हो रहे थे।