Hindi News Portal
लाइफस्टाइल

'प्यार की खातिर' अबू धाबी चली गई भारतीय लड़की, इस्लाम अपनाकर कहा- मैं यहां शादी करने आई हूं

 


अबू धाबी: दिल्ली की एक 19 वर्षीय ईसाई लड़की ने कहा है कि वह संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) 'प्यार की खातिर' आई है. लड़की ने इस महीने की शुरुआत में अबू धाबी के लिए उड़ान भरी थी और इस्लाम धर्म कबूल किया था. सियानी बेन्नी से आयशा बनी लड़की ने उन सभी रिपोर्ट्स का खंडन किया है, जिसमें कहा गया है किलड़की का अपहरण कर लिया गया और उसे आतंकवादी समूह में शामिल होने के लिए मजबूर किया गया. उसने कहा कि वह प्यार के लिए यूएई आई. गल्फ न्यूज ने आयशा के हवाले से कहा, "यह सही नहीं है. मैं अपने प्यार की खातिर यहां अबू धाबी आई हूं.

किसी ने मेरे साथ जबरदस्ती नहीं की. मैं भारत की एक वयस्क नागरिक हूं और अपने निर्णय स्वयं ले सकती हूं." जीसस एंड मैरी कॉलेज में अंतिम वर्ष की स्नातक छात्रा ने 18 सितंबर को आखरी बार कक्षा में भाग लिया. हलांकि, इसी दिन उसने आबू धाबी के लिए फ्लाइट ली थी. सोशल मीडिया के माध्यम से अबू धाबी स्थित भारतीय व्यक्ति से नौ महीने पहले उसकी दोस्ती हुई थी.
मूल रूप से केरल के कोझिकोड के रहने वाले उसके माता-पिता ने पुलिस में एक शिकायत दर्ज कराई. गुमशुदगी रिपोर्ट में उन्होंने कहा कि उनकी बेटी का अपहरण कर लिया गया है. लेकिन शनिवार को लड़की ने एक बयान जारी कर कहा कि उसने 24 सितंबर को अपनी इच्छा से अबू धाबी की अदालत में इस्लाम धर्म स्वीकार कर लिया है.
उसने आगे कहा, "मैंने यह धर्म अपना लिया है और मैं यह सुनिश्चित करूंगी की मैं जीवन भर इसी में बनी रहूं." भारत सरकार से अपने बयान में अपील करते हुए उसने कहा कि उसके बारे में झूठी खबरें फैला रहे लोगों पर कार्रवाई की जानी चाहिए. लड़की ने कहा कि अबू धाबी में उसके परिजन, जिसमें उसका भाई भी शामिल है, उससे मिलने के लिए आए हैं. गल्फ न्यूज ने लड़की के हवाले से रविवार को कहा, "मैंने उन्हें बता दिया है कि मैं वापस नहीं जा रही हूं. मैं यूएई में ही रहकर शादी करना चाहती हूं."

सौजन्य ज़ी न्यूज

01 October, 2019

जब ऊपर वाला देता है तो छप्पर फाड़ कर देता है , एक ही नंबर पर 2 बार लॉटरी लगी
अमेरिका के रहने वाले जेफ्री डेमार्को ने 12 सितंबर को लॉटरी के ये टिकट खरीदे थे। उनका जो नंबर था वह था 1-8-12-21-27, और उन्होंने उसके 2 टिकट लिए थे।
1902 के बाद पहली बार दुधवा नेशनल पार्क में दिखाई दिया दुर्लभ ऑर्किड का पौधा
उत्तर प्रदेश के दुधवा नेशनल पार्क में 'लुप्तप्राय प्रजातियों' के श्रेणी में रखा गया एक दुर्लभ ऑर्किड पौधे की किस्म पाई गई है, जिस पर खूबसूरत फूल लगे थे।
आपके मतलब की बात: कोरोना से बचने के लिए कौन सा हैंड सैनिटाइजर लेना फायदेमंद
क्या आपने कभी खरीदने से पहले ध्यान दिया है कि खरीदा गया हैंड सैनिटाइजर एल्कोहल बेस्ड है या नॉन एल्कोहल बेस्ड?
एमपी: डेंटिस्ट ने मरीज के जबड़े से निकाला 39 मिमी लम्बा दांत, गिनीज बुक का रिकॉर्ड तोड़ा
इस दुनिया का सबसे बड़ा और अनूठा दांत डेंटिस्ट सौरभ श्रीवास्तव ने एक मरीज के जबड़े से निकाला है. ये दांत 39 मिमी लम्बा है.
वास्तु टिप्स: खुले स्थान पर झाडू़ रखने से बाहर जाती है अच्छी ऊर्जा
घर या ऑफिस में झाड़ू का काम होते ही उसे नजरों के सामने से हटाकर रख देना चाहिए। पूरे समय झाडू़ का दिखाई देना अच्छा नहीं माना जाता।