Hindi News Portal
विदेश

नीरव मोदी की हिरासत अवधि 27 अगस्त तक बढ़ी, सुनवाई सितम्बर में शुरू होगी

लंदन। भगोड़े हीरा व्यवसायी नीरव मोदी की हिरासत अवधि 27 अगस्त तक बढ़ा दी गई है। दो अरब डॉलर के पंजाब नेशनल बैंक घोटाले और धनशोधन मामले के आरोपी नीरव को ब्रिटेन की एक अदालत के समक्ष वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से पेश किया गया। पिछले वर्ष मार्च में गिरफ्तारी के बाद से ही 49 वर्षीय हीरा व्यवसायी दक्षिण पश्चिम लंदन की वांड्सवर्थ जेल में बंद है। उसे लंदन में वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की अदालत में जिला न्यायाधीश वेनेसा बेरेटसर के समक्ष वीडियो कांफ्रेंस से पेश किया गया। उसे बताया गया कि सात सितम्बर से पांच दिनों की सुनवाई से पहले होने वाली सुनवाई मामला प्रबंधन सुनवाई होगी।

न्यायाधीश बेरेटसर ने कहा, 'आप फिर से वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से पेश होंगे। आपके वकील अदालत में उपस्थित रह सकते हैं।' मोदी के प्रत्यर्पण मामले की सुनवाई के पहले चरण में मई में जिला न्यायाधीश सैम्युअल गूजी ने सुनवाई की थी और दूसरे चरण की सुनवाई सात से 11 सितम्बर के बीच होनी है। अगले महीने होने वाली सुनवाई में मोदी के खिलाफ प्रथमदृष्ट्या मामला तय करने के लिए जिरह पूरी होगी और भारतीय अधिकारी दूसरी बार प्रत्यर्पण का आग्रह करेंगे, जिसे इस वर्ष की शुरुआत में ब्रिटेन की गृह मंत्री प्रीति पटेल ने मंजूर किया था।

 

 

सौजन्य इंडिया टीवी

 

 

07 August, 2020
Share |

अमेरिका का चीन पर बड़ा खुलासा, भारत को घेरने के लिए यह कदम उठा रहा है ड्रैगन
चीन भारत को घेरने के लिए पड़ोसी देशों को साधने में लगा है। इसके साथ हीं चीन भारत के तीन पड़ोसी देशों समेत करीब एक दर्जन देशों में मजबूत ठिकाना स्थापित करने का प्रयास कर रहा है ताकि उसकी पीएलए लंबी दूरी तक अपना सैन्य दबदबा बनाये रख सके।
नीरव मोदी की हिरासत अवधि 27 अगस्त तक बढ़ी, सुनवाई सितम्बर में शुरू होगी
भगोड़े हीरा व्यवसायी नीरव मोदी की हिरासत अवधि 27 अगस्त तक बढ़ा दी गई है। दो अरब डॉलर के पंजाब नेशनल बैंक घोटाले और धनशोधन मामले के आरोपी नीरव को ब्रिटेन की एक अदालत के समक्ष वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से पेश किया गया।
ट्रंप का चीन को बड़ा झटका, 15 सितंबर से पहले नहीं किया यह काम तो US में बैन हो जाएंगे TikTok-Wechat
बैन के आदेश पर हस्ता क्षर के बाद ट्रंप ने कहा कि यह बैन जरूरी है क्यों कि अविश्व सनीय ऐप जैसे TikTok से डेटा का इकट्ठा किया जाना देश की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है।
क्या मच्छरों के काटने से फैलता है कोरोना? रिसर्च में सामने आई ये बात
विश्वविद्यालय के जैवसुरक्षा अनुसंधान संस्थान में हुए अध्ययन के अनुसार वायरस मच्छरों की तीन आम प्रजातियों में प्रजनन कर पाने में असमर्थ है और इसलिए वह मच्छरों के जरिये मनुष्यों तक नहीं पहुंच सकता।
अयोध्या पर टिप्पणी को लेकर चौतरफा निन्दा से घिरे केपी शर्मा ओली
नेपाल के विभिन्न राजनीतिक दलों के शीर्ष नेताओं ने ओली की इस टिप्पणी की कड़ी निन्दा की और इसे ‘‘निरर्थक तथा अनुचित’’ करार दिया।