Hindi News Portal
व्यापार

कोरोना संकट के बीच IT सेक्टर के लिए आई बुरी खबर, Lockdown लंबा चला तो जा सकती हैं नौकरियां: आर चंद्रशेखर

हैदराबाद: नैस्कॉम के पूर्व अध्यक्ष आर चंद्रशेखर का मानना है कि कोविड-19 महामारी की वजह से यदि लॉकडाउन (Lockdown) लंबा चलता है, तो IT सेक्टर में नौकरियों में कटौती हो सकती है. चंद्रशेखर ने कहा कि घर से काम (Work From Home) लॉन्गटर्म में एक सकारात्मक पहलू हो सकता है. इससे आईटी कंपनियों के लिए नए रास्ते खुलेंगे और उनके निवेश में बचत होगी.

पूर्व नौकरशाह ने कहा कि यदि मौजूदा स्थिति और खराब होती है तो स्टार्टअप्स (Stratups) के लिए दिक्कत आ सकती है. स्टार्टअप कंपनियां उद्यम पूंजीपतियों से मिले कोष से चल रही हैं.

उन्होंने कहा कि बड़ी कंपनियां दो वजहों से नौकरियों में कटौती नहीं करेंगी. एक तो वे अपने कर्मचारी नहीं गंवाना चाहती हैं. दूसरा उनके पास कर्मचारियों को देने के लिए धन की कमी नहीं है.

चंद्रशेखर ने कहा कि कुछ बड़ी कंपनियां यदि नौकरियों की कटौती करती भी हैं, तो वे अस्थायी या इंटर्न कर्मचारियों को हटाएंगीं. उन्होंने कहा कि जब तक इन कंपनियों की जेब अनुमति देगी, वे नियमित और स्थायी कर्मचारियों को नहीं हटाएंगी.

हालांकि, इसके साथ ही चंद्रशेखर ने कहा कि यह इस बात पर निर्भर करेगा कि यह स्थिति कब तक रहती है. एक महीने, दो महीने या तीन महीने. उसके बाद ये कंपनियां भी दबाव में आ जाएंगी. कंपनियां अपने कर्मचारियों को सब्सिडी देना जारी नहीं रख सकती हैं. चंद्रशेखर ने PTI से कहा कि सवाल यह है कि ऐसी स्थिति कब तक रहती है.

उन्होंने कहा कि दुनिया के कई देशों में कर्मचारी घर से काम कर रहे हैं. लघु अवधि में इसका उद्योग पर नकारात्मक असर होगा. लेकिन भविष्य में यह कार्य संस्कृति में ऐसा बदलाव लाएगा, जो भारत में आईटी कंपनियों ने अभी तक अनुभव नहीं किया है.

चंद्रशेखर ने कहा कि भविष्य में वर्क फ्रॉम होम से कर्मचारी की उत्पादकता, लॉजिस्टिक्स लागत और कार्यालय स्थल की बचत होगी.

 

 


सौजन्य ज़ी न्यूज

 

 

12 April, 2020
Share |

ग्राहक का बैंक के ड्रॉप बॉक्स में चेक डालना सुरक्षित नही है
बैंकों के ग्राहक को के चेतावनी की ड्राप बॉक्स में चेक डालना आपके लिये खतनाक हो सकता है क्योंकि अब आपके एकाउंट पेई चेक भी सुरक्षित नहीं है.
आज से पूरे देश में अनलॉक-2 लागू, बैंकों में मिली कई छूट खत्म, यहां जानें बड़े बदलाव
बुधवार से सभी बैंकों के खाताधारकों को एटीएम से कैश ट्रांजेक्शन करने पर किसी तरह की छूट नहीं मिलेगी. पहले की तरह हर महीने केवल मेट्रो शहरों में आठ और नॉन मेट्रो शहरों में 10 ट्रांजेक्शन ही लोग कर सकेंगे.
पहली बार भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 500 अरब डॉलर के पार
चीन-जापान के बाद भारत का विदेशी मुद्रा भंडार सबसे ज्यादा
चीन को सबक सिखाएगी दुनिया, 'भविष्य की राह' दिखा रहा भारत
कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया को अपने शिकंजे में कसा हुआ है. भारत के लिए भी ये चुनौती भरा वक्त है लेकिन इस चुनौती में एक अवसर भी छिपा हुआ है.
कोरोना संकट के बीच IT सेक्टर के लिए आई बुरी खबर, Lockdown लंबा चला तो जा सकती हैं नौकरियां: आर चंद्रशेखर
यदि मौजूदा स्थिति और खराब होती है तो स्टार्टअप्स (Stratups) के लिए दिक्कत आ सकती है. स्टार्टअप कंपनियां उद्यम पूंजीपतियों से मिले कोष से चल रही हैं.