Hindi News Portal
लाइफस्टाइल

4 दिन बाद यूपी की जेल से रिहा हुए 8 गधे, BJP नेता की मदद से छुड़ाया

जालौन (उत्तर प्रदेश): अब तक आपने जेल में हत्या, लूट और बलात्कार जैसे अपराध करने वालों को बंद होते और रिहा होते देखा होगा लेकिन आज आपको दिखाएंगे इंसानों की जेल से बेजुबानों की रिहाई यानी सलाखों में बंद कुछ नए अपराधी। ऐसा सुनकर आपको अजीबो-गरीब लग रहा होगा लेकिन ये सौ फीसदी सच है और मामला उत्तर प्रदेश के जालौन जिला जेल का है।

जिला जेल में बंद किए गए बेजुबान जानवर

जालौन जिला जेल से गधे रिहा हुए वो भी बारी बारी लाइन लगाकर एक के बाद एक वैसे ही जैसे जेल से शातिर कैदियों की रिहाई होती है। बिलकुल उसी अंदाज में ये गधे भी जेल के बड़े गेट में बने लोहे के छोटे दरवाजे से बाहर निकले। इसी जेल में ये गधे पिछले चार दिनों से सजा काट रहे थे उन कैदियों के साथ जिसमें हत्या, लूट, बलात्कार जैसे जघन्य अपराध करने वाले बंद होते हैं। आपको भले ही ये मजाक लगे लेकिन गधों को जेल की सजा का सख्त आदेश किसी और ने नहीं बल्कि खुद जेल सुपरिनटेंडेट साहब ने सुनाय़ा।

पेड़ों को नुकसान पहुंचाने पर पकड़े गए

इन गधों को जेल की संपत्ति के नुकसान के जुर्म में सलाखों के पीछे डाला गया था। पुलिस वालों ने बताया कि दरअसल, उरई जेल में जेल प्रशासन ने कुछ दिन पहले ही 5 लाख रुपये के पेड़ मंगाये थे जिन्हें जेल में लगाया जाना था लेकिन जेल के बाहर घूमने बाले गधों ने उसे नष्ट कर दिया....फिर क्या था जैसे ही ये जानकारी जेल सुपरिनटेंडेट तक पहुंची गधे सलाखों के पीछे पहुंच गए।

जमानती मुचलके पर 'बेजुबानों' की रिहाई

गधों का जेल जाना जितना दिलचस्प है, रिहाई उससे भी मजेदार है। 8 गधों को जेल से निकलवाने की जुगत में इनके मालिक 4 दिन तक दौड़ते रहे पर हुआ कुछ नहीं फिर इन बेजुबानों के ताड़नहार बनकर आए बीजेपी के स्थानीय नेता। इनकी मदद से गधे रिहा तो हो गए पर जमानती मुचलके पर।

यूपी में कई बार चर्चा का विषय बने गधे इस बार यूपी पुलिस की वजह से सुर्खियों में हैं। कई बार अपराधियों को ना पकड़ पाने का आरोप झेलने वाली पुलिस ने अब गधों को ही हिरासत में लेना शुरू कर दिया है। बड़ी बात ये कि सिर्फ हिरासत में ले रही बल्कि 4 दिन तक जेल का दाना-पाना भी खिलाती है।


सौजन्य ; खबर इण्डियाटीवी

28 November, 2017

जब ऊपर वाला देता है तो छप्पर फाड़ कर देता है , एक ही नंबर पर 2 बार लॉटरी लगी
अमेरिका के रहने वाले जेफ्री डेमार्को ने 12 सितंबर को लॉटरी के ये टिकट खरीदे थे। उनका जो नंबर था वह था 1-8-12-21-27, और उन्होंने उसके 2 टिकट लिए थे।
1902 के बाद पहली बार दुधवा नेशनल पार्क में दिखाई दिया दुर्लभ ऑर्किड का पौधा
उत्तर प्रदेश के दुधवा नेशनल पार्क में 'लुप्तप्राय प्रजातियों' के श्रेणी में रखा गया एक दुर्लभ ऑर्किड पौधे की किस्म पाई गई है, जिस पर खूबसूरत फूल लगे थे।
आपके मतलब की बात: कोरोना से बचने के लिए कौन सा हैंड सैनिटाइजर लेना फायदेमंद
क्या आपने कभी खरीदने से पहले ध्यान दिया है कि खरीदा गया हैंड सैनिटाइजर एल्कोहल बेस्ड है या नॉन एल्कोहल बेस्ड?
एमपी: डेंटिस्ट ने मरीज के जबड़े से निकाला 39 मिमी लम्बा दांत, गिनीज बुक का रिकॉर्ड तोड़ा
इस दुनिया का सबसे बड़ा और अनूठा दांत डेंटिस्ट सौरभ श्रीवास्तव ने एक मरीज के जबड़े से निकाला है. ये दांत 39 मिमी लम्बा है.
वास्तु टिप्स: खुले स्थान पर झाडू़ रखने से बाहर जाती है अच्छी ऊर्जा
घर या ऑफिस में झाड़ू का काम होते ही उसे नजरों के सामने से हटाकर रख देना चाहिए। पूरे समय झाडू़ का दिखाई देना अच्छा नहीं माना जाता।