Hindi News Portal
भोपाल

यह मध्यप्रदेश है, जहाँ किसानों और निर्धन परिवारों के सरकारी स्कूल में पढ़े बच्चे भी डॉक्टर बन सकेंगे - मुख्यमंत्री चौहान

भोपाल : 18 सितम्बर ; मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश में सभी के लिए मकान, किसानों को सम्मान निधि, विद्यार्थियों को अनेक सुविधाएं देकर लाभान्वित किया जा रहा है। जो प्रावधान अन्य प्रदेशों में नहीं है, वे मध्यप्रदेश में किए गए हैं। यह मध्यप्रदेश है, जहाँ किसानों और निर्धन परिवारों के ऐसे बच्चे भी अब डॉक्टर बन सकेंगे जो सरकारी स्कूलों में पढ़े हैं। इनके लिए आरक्षण की व्यवस्था की गई है। प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व में भारत तेजी से प्रगति कर रहा है। प्रधानमंत्री श्री मोदी भारत के लिए ईश्वर का वरदान हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज विदिशा जिले के शमशाबाद में कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।
मुख्यमंत्री चौहान का अनुभव और सुशासन की कार्यशैली दिलवा रही नई पहचान - हिमन्त बिश्व शर्मा
कार्यक्रम को असम के मुख्यमंत्री हिमन्त बिश्व शर्मा ने भी संबोधित किया। असम के मुख्यमंत्री शर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश विकसित राज्य बनने की तरफ बढ़ा है, तो इसका श्रेय मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी को है। मुख्यमंत्री चौहान ने तीर्थदर्शन योजना को लागू करके प्रदेश के नागरिकों को देश के तीर्थ स्थानों की नि:शुल्क यात्रा की सुविधा दी है। आने वाले समय में प्रदेश के नागरिक जो भी अयोध्या के रामलला मंदिर के दर्शन के लिए जाना चाहेंगे, वे योजना का लाभ लेकर जा सकेंगे। मध्यप्रदेश में मेडिकल और इंजीनियरिंग की पढ़ाई हिन्दी में करवाई जा रही है। मध्यप्रदेश एक श्रेष्ठ राज्य है। यहां लाड़ली बहना योजना जैसी बहनों की जिन्दगी बदलने वाली योजना है। शिक्षा और कृषि क्षेत्र में मध्यप्रदेश ने काफी प्रगति की है। हर घर में जल नल के माध्यम से पहुंचाया जा रहा है। मध्यप्रदेश की गिनती पहले बीमारू राज्यों में थी, लेकिन आज मध्यप्रदेश विकसित राज्य का दर्जा प्राप्त कर रहा है। जहाँ प्रधानमंत्री मोदी भारत की प्रतिष्ठा विश्व में बढ़ाते हुए कार्य कर रहे हैं, वहीं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री चौहान मध्यप्रदेश को देश का नंबर-एक राज्य बनाने का सपना देखने के बाद उसे साकार करने का कार्य कर रहे हैं। उनका अनुभव और सुशासन आधारित कार्यशैली प्रदेश की नई पहचान बना रही है।
बहनों की जिन्दगी में खुशहाली लाना उद्देश्य - मुख्यमंत्री चौहान
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज हरतालिका व्रत के बाद भी बहनें बड़ी संख्या में यहां आई हैं। मैं मुख्यमंत्री नहीं इन बहनों का भईया हूँ। मैं सरकार नहीं परिवार चला रहा हूँ। लाड़ली बहना योजना सिर्फ एक योजना नहीं बल्कि बहनों का मान-सम्मान सुनिश्चित करने का अद्भुत माध्यम है। रक्षाबंधन पर बहनों को उपहार देने के बाद लाड़ली बहनों को हर माह 1250 रूपए प्रदान करने की पहल हुई। यह योजना बहनों को 3 हजार रूपए तक हर माह दिलवाने के लक्ष्य को लेकर प्रारंभ की गई है। प्रदेश के ऐसे परिवारों को नई आवास योजना का लाभ दिया जाएगा, जिनका अपना मकान नहीं है और वे अन्य आवास योजनाओं के लाभ से शेष रह गए हैं। मुख्यमंत्री चौहान ने विद्यार्थियों को लैपटॉप की राशि, साइकिल की राशि, स्कूटी प्रदान करने के प्रावधानों की जानकारी दी। मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना और मुख्यमंत्री सीखो-कमाओ योजना से बड़ी संख्या में विद्यार्थी लाभान्वित हो रहे हैं। इंजीनियरिंग और मेडिकल के अध्ययन का माध्यम हिंदी भाषा को बनाने का कार्य हुआ है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि अब तीर्थदर्शन योजना से हमारे सम्मानीय बुजुर्ग हवाई जहाज द्वारा तीर्थस्थानों के दर्शन का लाभ ले रहे हैं।
कार्यक्रम में पंचायत एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री रामखेलावन पटेल, शमशाबाद क्षेत्र की विधायक राजश्री सिंह, अन्य जनप्रतिनिधि और आम नागरिक बड़ी संख्या में उपस्थित थे। प्रारंभ में शमशाबाद में विभिन्न स्थानों पर नागरिकों ने मुख्यमंत्री चौहान का पुष्पों द्वारा दिल से स्वागत किया। समाज के प्रत्येक वर्ग के लोग मुख्यमंत्री चौहान से भेंट करने के लिए उत्सुक थे।

19 September, 2023

शिवराज ने बुधनी विधानसभा क्षेत्र से इस्तीफा देने के बाद अब हर किसी की नजर सीट पर
उपचुनाव में भाजपा यहां से किसे अपना उम्मीदवार बनाती है
राजस्व प्राप्तियों में वृद्धि के हरसंभव प्रयास हों- मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव
खनिज सम्पदा पर निगरानी के लिए प्रदेश में नाकों की संख्या बढ़ाई जाए।
पीएम श्री पर्यटन वायु सेवा प्रदेश के विकास को नया आयाम देगी - मुख्यमंत्री डॉ. यादव
हेलीकॉप्टर से धार्मिक स्थलों के दर्शन की सुविधा आरंभ होगी
मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने गेल (इंडिया) लिमिटेड की 60 हजार करोड़ के निवेश परियोजना को स्वीकृति दी
लगभग 5,600 व्यक्तियों को रोजगार मिलेगा।
प्रदेश में जल-गंगा संवर्धन अभियान के तहत साफ-सफाई के साथ 5 करोड़ 50 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य है ।; मुख्यमंत्री
मुख्यमंत्री नेभोपाल के छोटे तालाब की साफ-सफाई के लिए श्रमदान किया