Hindi News Portal
लाइफस्टाइल

आपके मतलब की बात: कोरोना से बचने के लिए कौन सा हैंड सैनिटाइजर लेना फायदेमंद

 

 

नई दिल्ली: कोराना वायरस (Coronavirus) भारत में प्रवेश कर चुका है. इसके साथ ही पिछले हफ्ते भर में जितने हैंड सैनिटाइजर (Hand sanitizer) की बिक्री हुई उतने भारत के इतिहास में नहीं बिके होंगे. हर व्यक्ति अपने आपको और परिवार को संक्रमण से बचाने के लिए सैनिटाइजर खरीदने में लगा है. आम धारणा ये भी बन रही है कि सैनिटाइजर ही आपको कोरोना से बचा सकता है. लेकिन क्या आपने कभी खरीदने से पहले ध्यान दिया है कि खरीदा गया हैंड सैनिटाइजर एल्कोहल बेस्ड है या नॉन एल्कोहल बेस्ड? क्या आपको ये पता है कि वायरस और बैक्टीरिया से लड़ने के लिए सैनिटाइजर में कितना प्रतिशत एल्कोहल होना जरूरी है? आइए हम करते हैं आपकी मदद...

बाजार में बिकते हैं दो तरह के सैनिटाइजर
जब आप किसी दुकानदार से सैनिटाइजर मांगते हैं तो वो किसी भी ब्रांड का उत्पाद आपको थमा देता है. लेकिन हैंड सैनिटाइजर खरीदते वक्त ये जानना जरूरी है कि आप इसे किस वजह से ले रहे हैं. इस वक्त बाजार में दो तरह के हैंड सैनिटाइजर उपलब्ध हैं. एक है एल्कोहल बेस्ड है और दूसरा नॉन एल्कोहल बेस्ड है. अगर आप सिर्फ घर में या दफ्तर में ही रहते हैं और कहीं आना जाना कम होता है तो नॉन एल्कोहल बेस्ड सैनिटाइजर (0.01 प्रतिशत एल्कोहल) आपके लिए उपयुक्त है. लेकिन अगर आप ट्रांसपोर्ट, डिलीवरी, फैक्टरी इंडस्ट्री या अस्पताल में काम करते हैं जहां लोगों का आना जाना बहुत ज्यादा होता है तो आपके लिए एल्कोहल बेस्ड सैनिटाइजर (60-65% एल्कोहल) ही सही होगा.

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए कौन सा सैनिटाइजर सही
कोरोना वायरस एक हाई लेवल का वायरस है. डॉक्टरों का कहना है कि इससे लड़ने के लिए एल्कोहल बेस्ड सैनिटाइजर ही मददगार है. 60-65 प्रतिशत एल्कोहल बेस्ड हैंड सैनिटाइजर 99.9% किटाणुओं को मार सकता है. इस लिए सलाह दी जाती है कि कोरोना वायरस के संभावित संक्रमण के इस माहौल में सिर्फ एल्कोहल बेस्ड सैनिटाइजर ही इस्तेमाल किया जाए.


सौजन्य ज़ी न्यूज

06 March, 2020
Share |

1902 के बाद पहली बार दुधवा नेशनल पार्क में दिखाई दिया दुर्लभ ऑर्किड का पौधा
उत्तर प्रदेश के दुधवा नेशनल पार्क में 'लुप्तप्राय प्रजातियों' के श्रेणी में रखा गया एक दुर्लभ ऑर्किड पौधे की किस्म पाई गई है, जिस पर खूबसूरत फूल लगे थे।
आपके मतलब की बात: कोरोना से बचने के लिए कौन सा हैंड सैनिटाइजर लेना फायदेमंद
क्या आपने कभी खरीदने से पहले ध्यान दिया है कि खरीदा गया हैंड सैनिटाइजर एल्कोहल बेस्ड है या नॉन एल्कोहल बेस्ड?
एमपी: डेंटिस्ट ने मरीज के जबड़े से निकाला 39 मिमी लम्बा दांत, गिनीज बुक का रिकॉर्ड तोड़ा
इस दुनिया का सबसे बड़ा और अनूठा दांत डेंटिस्ट सौरभ श्रीवास्तव ने एक मरीज के जबड़े से निकाला है. ये दांत 39 मिमी लम्बा है.
वास्तु टिप्स: खुले स्थान पर झाडू़ रखने से बाहर जाती है अच्छी ऊर्जा
घर या ऑफिस में झाड़ू का काम होते ही उसे नजरों के सामने से हटाकर रख देना चाहिए। पूरे समय झाडू़ का दिखाई देना अच्छा नहीं माना जाता।
वास्तु टिप्स: तुलसी में रविवार सहित इन दिनों में न चढ़ाए जल, माना जाता है अशुभ
प्राचीन काल से ही घर में तुलसी का पौधा लगाने की और उसमें प्रतिदिन जल चढ़ाने की परंपरा चली आ रही है. लेकिन कुछ ऐसे खास दिन भी होते हैं जब तुलसी को जल नहीं चढ़ाना चाहिए।