Hindi News Portal
अपराध

हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला, सीओ समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद, सीएम योगी ने दी श्रद्धांजलि

उत्तर प्रदेश के कानपुर में बदमाशों ने हाल के दिनों में सबसे जघन्य अपराध को अंजाम दिया है। यहां एक हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गए पुलिस दस्ते पर बदमाशों ने हमला कर दिया। इस हमले में पुलिस के एक क्षेत्राधिकारी और 2 एसआई समेत 8 पुलिस कर्मी शहीद हो गए। इसके अलावा कई अन्य जवान घायल भी हुए हैं। ये सभी पुलिस जवान उत्तर प्रदेश के कुख्या हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने गए थे। विकास दुबे कानपुर का हिस्ट्रीशीटर हैं इसके ऊपर 60 मुकदमे दर्ज है। विकास दुबे इससे पहले भी थाने में घुसकर राज्यमंत्री और पुलिस कर्मी सहित कई लोगों की हत्या कर चुका है।उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने जनपद कानपुर नगर में कर्तव्यपालन के दौरान अपने प्राणों की आहुति देने वाले 8 पुलिस कर्मियों को भावभीनी श्रद्धाञ्जलि दी है। यह भी पढ़ें: विकास दुबे ने 19 साल पहले की थी अपनी पहली बड़ी वारदात, आज दर्ज हैं कुल 60 मुकदमे

प्राप्त जानकारी के अनुसार यह घटना 2/3 जुलाई, 2020 की रात की है। जनपद कानपुर नगर के थाना चौबेपुर के ग्राम बिकरू के ही एक व्यक्ति की शिकायत पर हिस्ट्री शीटर विकास दुबे को पकड़ने कानपुर पुलिस की टीम गई थी। इस पुलिस दल पर अकस्मात अपराधी तथा उसके साथियों ने छत से फायर कर दिया। इसमें एक पुलिस क्षेत्राधिकारी, 3 सब इंस्पेक्टर एवं 4 कांस्टेबल मौके पर शहीद हो गए हैं । मुठभेड़ के दौरान बिठूर थाना प्रभारी कौशलेंद्र प्रताप सिंह समेत कई पुलिसकर्मी को गोली लगी है। घायल एसओ और सभी पुलिस कर्मियों को गंभीर हालत में रीजेंसी अस्पताल लाया गया है।

यूपी के ADG लॉ एंड आर्डर घटनास्थल पर पहुँच रहे हैं। एसएसपी और आईजी मौके पर है। कानपुर की फोरेंसिक टीम जाँच कर रही है। लखनऊ से भी एक टीम फोरेंसिक की जा रही है, STF भी लगा दी गई है।

कैसे हुआ हमला
बताया जा रहा है कि पुलिस दल को बिकारू गांव में विकास दुबे के होने की खबर मिली थी। जैसे ही पुलिस दल वहां दबिश के लिए पहुंचा बदमाशों ने पुलिस के दस्ते पर फायरिंग कर दी। पुलिस जवानों को संभलने और खुद को किसी आड़ में सुरक्षित करने का मौका ही नहीं मिला। इस जघन्य हमले में 8 पुलिस जवानों की जान चली गई।

मुठभेड़ में शहीद हुए पुलिसकर्मियों के नाम
1-देवेंद्र कुमार मिश्र,सीओ बिल्हौर

2-महेश यादव,एसओ शिवराजपुर
3-अनूप कुमार,चौकी इंचार्ज मंधना
4-नेबूलाल, सब इंस्पेक्टर शिवराजपुर
5-सुल्तान सिंह कांस्टेबल थाना चौबेपुर
6-राहुल ,कांस्टेबल बिठूर
7-जितेंद्र,कांस्टेबल बिठूर
8-बबलू कांस्टेबल बिठूर

योगी ने दी श्रद्धांजलि
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद कानपुर नगर में कर्तव्यपालन के दौरान अपने प्राणों की आहुति देने वाले 8 पुलिस कर्मियों को भावभीनी श्रद्धाञ्जलि दी है। पुलिस कार्मिको की शहादत को शत् शत् नमन करते हुए मुख्यमंत्री ने इनके शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने पुलिस महानिदेशक को इस दुर्दांत घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करने तथा तत्काल मौके की रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

 

 

सौजन्य इंडिया टीवी

03 July, 2020
Share |

सुशांत के करीबी दोस्त संदीप का झूट सीबीआई ने पकड़ा
शक की सुई दोस्त पर भी सीबीआई के हाथ लगा प्रमुख सुराग
CBI ने शुशांत सिंग राजपुत केस मै रिया चक्रवर्ती समेत 6 लोगों के खिलाफ FIR
केंद्र सरकार द्वारा सीबीआई को सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच देने के एक दिन बाद के बाद FIR
विकास दुबे का हुआ अंतिम संस्कार, बॉडी लेने के लिए चुपचाप लाया गया बहनोई
कहा जा रहा है कि पुलिस विकास की पत्नी और बेटे को भी लेकर आई थी
कानपुर एनकाउंटर: IG बोले- शक के घेरे में चौबेपुर थाना, सबूत मिले तो पुलिसवालों पर भी दर्ज होगा हत्या का केस
कानपुर पुलिस टीम पर हमले के मामले में कानपुर के आईजी मोहित अग्रवाल ने कहा कि विकास दुबे को पुलिस मूवमेंट की जानकारी कैसे मिली, इस पर स्थानीय पुलिस स्टेशन के सभी कर्मी हमारी जांच के दायरे में है।
हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला, सीओ समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद, सीएम योगी ने दी श्रद्धांजलि
उत्तर प्रदेश के कानपुर में बदमाशों ने हाल के दिनों में सबसे जघन्य अपराध को अंजाम दिया है। यहां एक हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गए पुलिस दस्ते पर बदमाशों ने हमला कर दिया।