Hindi News Portal
राजनीति

विशेष सत्र शुरू होते ही विपक्ष का हंगामा, PM मोदी का तंज : रोने धोने के लिए बहुत समय है

नई दिल्ली 18 सितंबर : संसद के नए भवन में विशेष सत्र शुरू हो गया है। इंडिया गठबंधन ने सत्र के पहले दिन चर्चा में शामिल होने का फैसला लिया है। सत्र में 8 विधेयक पर चर्चा की जाएगी। इस दौरान विपक्ष इस विधेयक पर क्या प्रतिक्रिया देता है यह देखने योग्य होगा।
वहीं सत्र शुरू होते ही विपक्ष माइक बंद किए जाने का आरोप लगाकर हंगामा कर रहा है।
संसद के विशेष सत्र में भाजपा नेता दिनेश शर्मा ने राज्यसभा में संसद सदस्य के रूप में शपथ ली। दिनेश शर्मा को यू.पी. से राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया था।
वहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सत्र शुरू होने से पहले पत्रकारों को संबोधित करते हुए सभी सांसदों को आह्वान किया कि वे इस सत्र में संसद के नए भवन में नई उमंग, नए उत्साह से नए संकल्पों को पूरा करने के लिए नए विश्वास से आएं और 2047 तक भारत को एक विकसित राष्ट्र बनाने के लिए जुटें।
उन्होंने कहा कि इस समय सारे देश में उमंग का माहौल और एक नया आत्मविश्वास हम सभी महसूस कर रहे हैं। उसी समय संसद का ये सत्र हो रहा है। ये सत्र छोटा है, लेकिन समय के हिसाब ये बहुत बड़ा है। ऐतिहासिक निर्णयों के ये सत्र है। इस सत्र की एक विशेषता ये है कि 75 साल की यात्रा अब नए मुकाम से शुरू हो रही है। जिस मुकाम पर 75 साल की यात्रा हुई है, वे अत्यंत प्रेरक पल रही है।
उन्होंने कहा कि संसद का विशेष सत्र अनेक प्रकार से महत्वपूर्ण है। सभी सांसदों से अपील है कि यह सत्र छोटा है। इसलिए इसमें ज्यादा से ज्यादा समय सदस्यों को मिले, वे उमंग उत्साह से भाग लें। रोने धोने के लिए बहुत समय है। जीवन के कुछ पल ऐसे होते हैं जिनमें उत्साह, उमंग, उल्लास होना चाहिए।

18 September, 2023

कांग्रेस अध्यक्ष का पार्टी कार्यकता से पैर धुलवाते हुए वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल
नाना पटोले भाजपा और सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर
राहुल गांधी ने वायनाड को धोखा दिया, इसे अपने परिवार की संपत्ति बनाना चाहते हैं : भाजपा
राहुल गांधी ने घोषणा की कि वह वायनाड सीट छोड़ रहे हैं।
कर्नाटक हाई कोर्ट ने पॉक्सो मामले में बीएस येदियुरप्पा की गिरफ्तारी पर रोक लगाई
17 जून को जांच में शामिल होने की बात कही है,
राहुल गांधी वायनाड के लोगों को धन्यवाद देने केरल पहुंचे
प्यार से नफरत की हार हुई, पीएम वाराणसी में बाल-बाल बच गए
इंडिया गठबंधन, ने नीतीश कुमार को पीएम बनाने का ऑफर दिया था ; केसी त्यागी
एनडीए से पहले विपक्षी इंडिया गठबंधन ने भी सरकार बनाने की कोशिशें की