Hindi News Portal
स्वास्थ

आप किशोरवस्था पार कर चुके हैं तब भी आपकी हाइट इन सब्जियों से बढ सकती है

आजकल लंबा दिखना हम में से ज्यालदातर लोगों के लिए एक सपने की तरह है। लंबा, सांवला और आकर्षक पुरुष सभी को पसंद आता हैं और इसी तरह लंबी और दुबली महिला को सुंदर माना जाता है। हालांकि आपकी लंबाई एक निश्चित सीमा तक आनुवंशिकी पर निर्भर करती है और आमतौर पर एक व्यतक्ति की लंबाई एक बार उसकी किशोरवस्थात तक पहुंचने तक बंद हो जाती है। अगर आप अपनी किशोरवस्थाh पार कर चुके हैं और अपनी लंबाई से खुश नहीं है, लेकिन अपनी लंबाई को कुछ इंच बढ़ाना चाहते हैं तो अपने आहार में कुछ सब्जियों की कुछ मात्रा को शामिल करें। जीं हां कुछ सब्जियों की मदद से आप ऐसा कर सकते हैं। सब्जियां अच्छाक स्वाकस्य्र् प्रदान करने के साथ-साथ शरीर के समुचित कार्य में मदद करती है। इसके अलावा सब्जियां शरीर में हार्मोन के उचित स्राव के नियमन को बनाए रखने में मदद करती हैं। कुछ सब्जियों के बारे में बतायेंगे, जिसके इस्तेनमाल से आप वास्तरव में कुछ इंच लंबाई बढ़ा सकते हैं।
सब्जियों की मदद से बढ़ाये कुछ इंच लंबाई
1 ; ग्रोथ हार्मोन से समृद्ध शलजम
शलजम ग्रोथ हार्मोन से समृद्ध होता हैं और नियमित आधार पर शलजम के सेवन से लंबाई बढ़ाने में मदद मिलती है। इसके अलावा शलजम विटामिन, मिनरल, फाइबर, प्रोटीन, कोलेस्ट्रॉल और फैट से भरपूर होता हैं। आप इसे पका कर या अन्य सब्जियों में मिलाकर खा सकते है या फिर इसे अन्य सब्जियों की ग्रेवी में भी मिला सकते हैं।
2 ; विभिन्नक व्यंसजनों और डेसर्ट में शमिल करें रूबर्ब
इससे आपके शरीर में ग्रोथ हार्मोन के स्राव को उत्तेुजित करने में मदद मिलती है। यह एक उत्कृ्ष्टं बारहमासी संयंत्र डायबिटिज से लड़ने में शरीर की मदद करता है। यह मोटी और छोटी राइजोम से बढ़ता है। अगर आप भी अपनी लंबाई में कुछ इंच बढ़ना चाहते हैं तो रूबर्ब कम से कम हफ्ते में 3-4 बार कच्चाु या पकाकर खायें। इसके अलावा विभिन्न् व्यं जनों और डेसर्ट तैयार करते समय आप इसे मिला सकते हैं।
3 ; पोषक तत्वों से भरपूर बींस
बींस फाइबर, फोलेट, प्रोटीन, विटामिन और कार्बोहाइड्रेट से भरपूर होती हैं और इसे पोषक तत्वों से भरपूर सब्जी माना जाता है। अध्ययन से पता चला है कि प्रोटीन से समृद्ध होने के कारण बींस के नियमित सेवन से लंबाई बढ़ाने में मदद मिलती है। उबली बींस को सलाद में या अन्य व्यंसजनों में मिलाकर खाने से लंबाई बढ़ाने में मददगार ग्रोथ हार्मोन को प्रोत्सा‍हित कर सकते है।
पोषक तत्वों से भरपूर बींस
4; लंबाई बढ़ाने में मददगार ब्रोकली
ब्रोकली लंबाई बढ़ाने में मददगार, एक और महत्विपूर्ण सब्जीं है। ब्रोकली शरीर में ग्रोथ हार्मोन को उत्तेेजित कर लंबाई बढ़ाने में मदद करता है। साथ ही यह शरीर के कार्य को सही तरीके से करने में भी मदद करती है। ब्रोकली फाइबर, हेल्दीी विटामिन और विटामिन सी और आयरन से भरपूर होती है। इसके अलावा इसमें एंटी-कैंसर गुण के साथ फाइबर भी बहुत अधिक मात्रा में होता है।
लंबाई बढ़ाने में मददगार ब्रोकली
5 ; मिनरल और विटामिन से समृद्ध मटर
मटर महत्विपूर्ण सब्जियों में से एक है, जिसमें मौजूद अधिक मात्रा में पोषक तत्व लंबाई बढ़ाने में मदद करते हैं। इसमें मौजूद मिनरल और विटामिन, फाइबर और ल्यू टीन स्वा स्य््ज को बढ़ावा देने में मदद करते हैं। नियमित आहार में मटर को शामिल करने से ग्रोथ हार्मोंन को उत्तेरजित कर लंबाई बढ़ाने में मदद मिलती है। लेकिन ध्या न रहें कि अपने नियमित आहार में सूखे मटर की जगह ताजे मटर को ही शामिल करें।
मिनरल और विटामिन से समृद्ध मटर
6 ; अन्य सब्जियां
इसके अलावा ब्रुसेल्स स्प्राउट्स, भिंडी, पालक, कॉलार्ड ग्रीन और बोक चॉय विटामिन, मिनरल, प्रोटीन, फाइबर, आयरन और कई अन्यग पोषक तत्वोंद से भरपूर होते हैं। श्हो शरीर में ग्रोथ हार्मोन को उत्तेरजित कर लंबाई बढ़ाने में मदद करते हैं। अगर आप अपनी लंबाई को कुछ इंच बढ़ाना चाहते हैं तो इन सब्जियों को अपने आहार में शामिल करें।


साभार; Onlymyhealth

08 May, 2017

मुंबई ; कोविशील्ड वैक्सीन का “किंग एडवर्ड मेमोरियल हॉस्पिटल “ में मानव परीक्षण प्रक्रिया शुरू
ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा कोविशील्ड वैक्सीन को विकसित किया गया है और भारत में पुणे की सीरम इंस्टिट्यूट इसे तैयार कर रही है.
मुर्गियों से नहीं फैलता कोरोना कुक्कुट उत्पादों का सेवन सुरक्षित है।
चिकन और अंडे मनुष्यों में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते है
सुल्तानिया अस्पताल में दुर्लभ प्रसव ; डॉक्टरों ने महिला की जान बचाई
चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. साधौ ने दी चिकित्सक टीम को बधाई
कोमा मै बच्चे के जन्म देने के दो हफ्तो के बाद कोमा से बाहर आई महिला
कोमा में जाने के बाद में बच्चे का जन्म दें और उसे इस बात का ऐहसास करीब 2 सप्ताह के बाद हो
जारी हुई HIV ग्रस्त लोगों की रिपोर्ट, भारत में चिंताजनक है महिलाओं की स्थिति
भारत में 2017 में अनुमान के मुताबिक 21.4 लाख लोग एचआईवी से ग्रस्त थे जिनमें करीब 40 प्रतिशत महिलाएं थीं.